(2022) RBI Introduce about Central Bank Digital currency in hindi

Share

दोस्तों Central Bank digital currency अपने भारत में सेंट्रल बैंक और RBI के द्वारा बहुत जल्दी लॉंच होने बाली हैं।
आख़री साल कोविद-19 में देखा गया की डिजिटल पेमेंट बहुत ज़्यादा हुआ,और भौतिक पेमेंट में कमी आयी हैं।
Central Bank digital currency को भारत में बहुत जल्द लॉंच किया जाए। यह पैसों का भविष्य हैं। ऐसा डिप्टी गवर्नर श्री टी॰ संकर ने कहा।

central bank digital currency in hindi

What is Central bank Digital currency in hindi(सेंट्रल बैंक डिजिटल करेंसी क्या हैं)

यह हम लोगों के लिए जानना बहुत ज़रूरी हैं की Central Bank digital currency क्या हैं । और हम लोगों को इसकी क्या ज़रूरत हैं।

तो दोस्तों इसको शुरू से शुरू करते हैं। जब बात उस समय की हैं जब शिकारियों और Stockowner बिकसित समाजों में सामानो की ज़रूरत पड़ी जैसे की रहने के लिए घर, पहनने के लिए कपड़े , खाने के लिए खना और सुरक्षा के लिए हथियार के लिए।
हालाँकि इन चीजों को पर्सनली उत्पन्न नहि किया जा सकता।

इसलिए लोगों को दूसरों से सामान ख़रीदना पड़ता था । बदले में दूसरा कोई ज़रूरत का सामान दिया जाता था ।
जैसे एक भाले के लिए चमड़े की खाल।
इसमें भी सीमाए थी। जैसे एक भाले के लिए कितनी चमड़े की खाले।
अब लोग कांसे या कौड़ी के गोले के संदर्भ में खाले और भाले दोनों का मूल्य जानते थे। यह अभी भी वस्तु विनिमय था, क्योंकि कांस्य और गोले दोनों का आंतरिक मूल्य था (गोले उनकी सुंदरता के लिए वांछित थे)। यह प्रणाली समय के साथ धातु मुद्राओं में विकसित हुई।

See also  स्मॉल फाइनेंस बैंक क्या हैं? List of Small Finance Banks in India.

सोने और चांदी के सिक्के इस प्रणाली की शाखा थे जहां उनके पास वस्तु विनिमय की विशेषताएं थीं (सोने और चांदी दोनों का आंतरिक मूल्य था) साथ ही साथ पैसा (वे मूल्य के मानकीकृत प्रतिनिधित्व थे)। कहीं न कहीं लोगों ने सुधार किया – वस्तु विनिमय के लिए वास्तविक वस्तुओं के बजाय उन्होंने माल पर दावों का उपयोग करना शुरू कर दिया, वास्तव में विनिमय का बिल। ये मेसोपोटामिया में मिट्टी की गोलियां या ग्यारहवीं शताब्दी में चीन की तरह कागजी मुद्रा हो सकती हैं।

 

CBDC and Banking System

जैसे की Central Bank digital currency एक डिजिटल मुद्रा हैं तो यह जमा कर्ताओं को इसका ब्याज नहि देती हैं।
डिजिटल मुद्रा बैंक से ही वितरित होगी।
CBDC का एक जोखिम और हो सकता हैं। CBDC की प्रेज़ेन्स में जमा कर्ताओं के लिए किसी भी बैंक पर दवाब होने पर शेष राशि निकलना आसन हो जाता हैं।
जिन जमा कर्ताओं को लेनदेन के उद्देश्य के लिए CBDC की आवश्यकता होती हैं वे ब्याज अर्जित ख़ताओं में दिन के अंत की शेष धन को स्वीप कर सकते हैं।

 

CBDC may be face Technology Risk

ये तो आम बात हैं की अगर Central Bank digital currency लॉंच होती हैं चुकी ये डिजिटल करेन्सी हैं तो इस पर साइबर हमले हो सकते हैं।
इसके लिए हमें ज़्यादा ताक़त भर सुरक्षा सुनिसचित करनी होगी।
क्यों की CBDC का लेनदेन दूसरे देशों के साथ होगा।
जिसमें सुरक्षा अहम भूमिका निभाएगी।

 

RBI Approach On Central Bank Digital Currency

दोस्तों दुनिया भर के सेंट्रल बैंक CBDC की खोज में लगे हिये हैं।
CBDC को खुदरा और थोक में उपयोग किया जाएगा।RBI वर्तमान में एक चरणवध्या रणनीति की दिशा में काम कर रहा हैं।
हालाँकि भविषय में RBI पायलट के आधार पर थोक और खुदरा क्षेत्रों में CBDC आयोजित करने की संभावना हो सकती हैं।

See also  Cryptocurrency review in Hindi? | क्रिप्टोकारेन्सी क्या है? 2023

 

कुछ और पसंद –

 

निष्कर्ष

दोस्तों इस लेख में मैंने बताया की Central bank digital currency क्या हैं और आरबीआई ने CBDC क्यों लॉंच की हैं। मुझे आशा हैं आपको इस लेख से संबंधित जानकारी मिल गई होगी। और ऐसे ही ब्लॉग लेख पढ़ने के लिये आप हमारे financial intimation परिवार समूह को जॉईन कर सकते हैं। जिस पर में बैंकिंग और फ़ायनेंस से जुड़े लेख पब्लिश करता रहता हूँ।

 

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल 

प्रश्न- सेंट्रल बैंक डिजिटल करेंसी क्या हैं?

उत्तर– सेंट्रल बैंक डिजिटल करेंसी आरबीआई द्वारा लॉंच की जाने वाली एक डिजिटल मुद्रा हैं । जो प्राइवेट और सरकारी बैंको द्वारा लागू होगी।

 

प्रश्न- क्या सेंट्रल बैंक डिजिटल करेंसी सुरक्षित हैं?

उत्तर– यह मुद्रा एक डिजिटल मुद्रा हैं इस पर साइबर हमले होना आम बात हैं लेकिन यह मुद्रा बैंको द्वारा वितरित होगी तो बैंक की सुरक्षा और सरकार की साइबर क्राइम टीम के दायरे में होगी। तो कह सकते हैं यह सुरक्षित हैं।

 

4.5/5 - (2 votes)
Share
Spread the love

Leave a Comment